आयरलैंड के पूर्व कप्तान और टीम के दिग्गज खिलाड़ी विलियम पोर्टरफील्ड ने इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह दिया है। बाएं हाथ का यह बल्लेबाज आयरलैंड के सबसे सफल बल्लेबाजों की लिस्ट में दूसरे स्थान पर आता है।

पोर्टरफील्ड ने 16 जून को एक अधिकारिक घोषणा करते हुए 10 साल से भी ज्यादा चले अपने इंटरनेशनल करियर पर विराम लगाया। साल 2008 में इस खिलाड़ी को आयरलैंड का कप्तान बनाया गया था और इस खिलाड़ी ने अपनी टीम के लिए कुल 253 मैचों में कप्तानी की है जो कि एक रिकॉर्ड है।

साल 2018 में आयरलैंड को टेस्ट क्रिकेट खेलने का दर्जा मिला और फिर पाकिस्तान के खिलाफ देश के लिए पहले टेस्ट में उन्होंने टीम की कमान संभाली। पोर्टरफील्ड ने टीम की कमान 11 साल से भी ज्यादा तक संभाली है और आखिरकार साल 2019 में उन्होंने कप्तानी छोड़ी जिसके बाद टीम की कमान एंड्रयू बालबर्नी को दी गई है।

ICC Mens T20 WC 2021: Wilson, Porterfield added to Ireland's support staff  for T20 WC | Cricbuzz.com - Cricbuzz

पोर्टरफील्ड के इंटरनेशनल करियर की बात की जाए तो उन्होंने अपने देश के लिए कुल 212 मैचों में 5480 रन बनाए है। इस दौरान उनके सबसे ज्यादा रन वनडे(4343 रन) में आए है। शतक की बात की जाए तो इस दिग्गज खिलाड़ी ने अपने देश के लिए 23 अर्धशतक और 11 शतक जमाने का कारनामा किया है। इस दौरान उनका उच्चतम स्कोर 139 रनों का रहा है।

पोर्टरफील्ड ने इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहते हुए कहा है कि देश के लिए करीब 16 तक खेलना मेरे लिए एक बड़ी बात है। उन्होंने कहा कि वो देश के लिए अपनी सेवा दे पाएं इसके लिए उन्होंने अपनी खुशी जाहिर की है। उन्होंने आगे बयान देते हुए कहा कि साल 2006 से लेकर अभी तक के एक यादगार क्रिकेट करियर के लिए वो सभी को शुक्रिया अदा करना चाहते हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.