भारत और साउथ अफ्रीका की सीरीज के बाद सभी लोगों के बीच इसी बात की चर्चा है कि क्या केएल राहुल के चोटिल होने के बाद विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत को टीम की कप्तानी देनी चाहिए थी?

भारत के पूर्व क्रिकेटर और अभी सेलेक्शन कमेटी के सदस्य मदन लाल ने भी पंत पर बयान देते हुए कहा है कि वो कभी भी पंत को टीम की कमान नहीं देते। उन्होंने कहा कि पंत अभी युवा है और वो इस जिम्मेदारी के लिए अभी तैयार नहीं हुए है।

मदन लाल ने इस बीच भारत के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली के बारे में बात करते हुए कहा कि पंत को कम से कम कप्तानी की जिम्मेदारी देने के लिए दो साल तक इंतजार करना पड़ेगा। बता दें कि पंत ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ सीरीज में कप्तानी कराई थी जहां उनका बल्ला बिल्कुल भी नहीं चला था और दोनों टीमों के लिए सीरीज 2-2 पर खत्म हुई थी।

India vs South Africa - Pant As Indian Captain

मदन लाल ने स्पोर्ट्स तक से बातचीत करते हुए कहा,”मैं उन्हें कप्तान बनने से रोक लेता और उन्हें ऐसा करने के लिए हां नहीं भरता। क्योंकि ऐसे खिलाड़ियों को बाद में ऐसी जिम्मेदारी देनी चाहिए। भारत का कप्तान बनना अपने आप में एक बड़ी बात होती है। वो काफी युवा है और उनके पास सीखने के लिए बहुत कुछ है। वो जितना ज्यादा खेलेंगे उन्हें इस खेल की समझ उतनी ज्यादा होगी।”

आगे बात करते हुए मदन लाल ने कहा कि पंत आने वाले समय में अगर अपने खेल को और उच्च स्तर पर ले जाते हैं तो कही ना कही उन्हें कप्तान बनाने के बारे में विचार करना चाहिए।

पंत अभी भारत की सीनियर टीम के साथ इंग्लैंड के दौरे पर हैं जहां वो टीम के साथ एक टेस्ट, तीन टी-20 और तीन वनडे के लिए बने रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.