पाकिस्तान के पूर्व दिग्गज स्पिनर दानिश कनेरिया ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड पर एक बड़ा आरोप लगाया है। दरअसल, पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने श्रीलंका के खिलाफ दो मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए 18 सदस्यीय टीम का ऐलान किया। इसके बाद कनेरिया ने पीसीबी पर आरोप लगाते हुए कहा है कि क्रिकेट बोर्ड को जो खिलाड़ी पसंद आते हैं वो सिर्फ उन्हीं को टीम में मौका देते हैं।

कनेरिया का ये बयान तब आया जब श्रीलंका के खिलाफ टीम चयन में यासिर शाह की वापसी हुई और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक टेस्ट मैच में खेलने वाली साजिद खान को टीम से बाहर कर दिया गया।

पाकिस्तान के पूर्व स्पिनर ने कहा कि साजिद खान को श्रीलंका के खिलाफ इस टेस्ट मैच में शामिल होना चाहिए था। इसके अलावा उन्होंने कहा कि टीम में हरिस रउफ को मौका मिलना चाहिए था, साथ ही उन्होंने टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज सरफराज अहमद की भी वापसी पर नाराजगी जताई है।

Pakistan team's practice session at Gaddafi Stadium, Lahore ahead of Test against Australia(PCB)

अपने यूट्यूब चैनल पर बात करते हुए सरफराज अहमद ने कहा,”पता नहीं सेलेक्टर्स ने क्या सोचकर टीम को चुना है। मुझे लगता है कि सेलेक्टर्स टीम को चुनते वक्त जो गलतियां करेंगे वो कभी नहीं सुधार सकते। मुझे नहीं पता कि रमीज ऐसी टीम को अनुमति कैसे देते हैं। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट में ऑफ स्पिनर साजिद खेलते हुए नजर आए थे लेकिन फिर उन्हें श्रीलंका के खिलाफ सीरीज के लिए मौका नहीं दिया गया। उन्होंने उस्मान कादिर को भी हटा दिया और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भी मौका नहीं दिया। जाहीद महमूद को भी बिना किसी कारण के टीम से हटा दिया गया। मुझे समझ नहीं आ रहा है कि बाबर आजम और वसीम टीम सेलेक्शन कर रहे हैं या फिर अपने दोस्तों पर एहसान कर रहे हैं।”

दानिश कनेरिया ने कहा कि पाकिस्तान को भविष्य के लिए टीम बनानी चाहिए लेकिन ऐसा लगता है कि जो खिलाड़ी सेलेक्टर्स को गिफ्ट देते हैं और उनको खुश रखते हैं टीम में सिर्फ उन्हीं का चुनाव होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.